हिमाचल विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन सदन में हंगामा, नारेबाजी करते हुए कांग्रेस विधायकों ने किया वाकआउट, बोले अविश्वास प्रस्ताव पर बोलने का नहीं दिया समय

हिमाचल विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन सदन में हंगामा, नारेबाजी करते हुए कांग्रेस विधायकों ने किया वाकआउट, बोले अविश्वास प्रस्ताव पर बोलने का नहीं दिया समय

विपक्ष के अन्य सदस्यों को अविश्वास प्रस्ताव पर बोलने की अनुमति न मिलने पर सदन में हंगामा और नारबाजी शुरू हो गई। मुख्यमंत्री जैसे ही चर्चा का जवाब देने उठे तो कांग्रेस विधायक नारेबाजी करते हुए सदन से वाकआउट कर गए।

विपक्ष के नेता मुकेश ने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव पर बोलने के लिए केवल चार घंटे का कम समय दिया गया. विपक्ष के 17 विधयको को बोलने का मौका नहीं दिया गया. सरकार से हर वर्ग परेशान है. महंगाई बेरोजगारी, माफियाराज जयराम सरकार में दन दना रहा है. अविश्वास प्रस्ताव के बाद मुख्यमंत्री को पद से इस्तीफा देना चाहिए.

कांग्रेस नेता आशा कुमारी ने कहा कि कांग्रेस के विधायकों को अविश्वास प्रस्ताव पर बोलने के लिए बहुत कम समय दिया गया. एक तिहाई बहुमत के बाद अविश्वास प्रस्ताव लाया गया लेकिन विपक्ष के 23 विधायकों को इस पर बोलने का समय नहीं दिया गया. उन्होंने कहा की विपक्ष के साथ यह सरकार जनता का विश्वास भी खो चुकी है. विपक्ष की आवाज़ को सदन में सुना नहीं गया जिसके बाद वाकआउट किया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: