प्रदेश में कानून व्यवस्था की हालत खराब, बढ़ रहीं गोलीकांड व हत्याकांड की घटनाएं, सरकार और पुलिस अपराध रोकने में नाकाम : आईडी भंडारी, पूर्व डीजीपी, उपाध्यक्ष, आम आदमी पार्टी

प्रदेश में कानून व्यवस्था की हालत खराब, बढ़ रहीं गोलीकांड व हत्याकांड की घटनाएं, सरकार और पुलिस अपराध रोकने में नाकाम : आईडी भंडारी, पूर्व डीजीपी, उपाध्यक्ष, आम आदमी पार्टी

नालागढ़ कोर्ट परिसर और ऊना जिले में हुए गोलीकांड चिंता का विषय , अपराधिकों को रोका नहीं गया तो होंगे गंभीर परिणाम।




आम आदमी पार्टी के उपाध्यक्ष और पूर्व डीजीपी आई.डी. भंडारी ने कानून व्यवस्था को लेकर जयराम सरकार पर निशाना साधा है। भंडारी ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था चौपट हो गई है। जिसके कारण अपराधियों के हौसले बुलंद हो रहे हैं। प्रदेश में आए दिन गोलियां चल रही हैं। जिससे देवभूमि हिमाचल प्रदेश अपराध भूमि बनती जा रही है। प्रदेश की जयराम सरकार कानून व्यवस्था बनाए रखने में पूरी तरह नाकाम साबित हो रही है। दो महीने में हुए हत्याकांड से प्रदेश में भय का वातावरण व्याप्त है।

आई. डी. भंडारी ने कहा कि पिछले दिनों बिलासपुर के झूंडूता में एक छात्र की हत्या कर दी गई और उसकी डेड वॉडी को काट काट कर फेंका गया। 29 अगस्त को नालागढ़ के कोर्ट परिसर में गोलीकांड हुआ। जिसमें एक गैंग के लोगों ने गैंगस्टर को गोलियों से छलनी कर दिया। इसी तरह ऊना में एक राजनैतिक पार्टी के नेता पर गोलियां दागी गई, जिसमें उसकी मौत हो गई। देवभूमि हिमाचल में इस तरह से हो रहे गोलीकांड और हत्याकांड की घटनाएं चिंता का विषय है। यह घटनाएं साबित करती हैं कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की हालत खराब हो गई है। आईडी भंडारी ने कहा कि हिमाचल में नशा माफिया बेखौफ होकर तस्करी कर रहा है। प्रतिदिन समाचारों में आता है कि चिट्टा की सप्लाई हो रही है। इसके बाद यह गोलकांड व हत्याकांड की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। जिससे लगता है कि सरकार गंभीरता नहीं दिखा रही है और पुलिस तंत्र अपराध रोकने में नाकाम हो रहा है। अगर इसे रोका नहीं गया तो इसके गंभीर परिणाम हिमाचल वासियों को भुगतने पड़ेंगे। इसके लिए जयराम सरकार और पुलिस जिम्मेदार है जो कानून व्यवस्था का बनाए रखने में नाकाम साबित हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: