ओपीएस की बहाली कर कांग्रेस ने साबित कर दिया कि कांग्रेस जो कहती है उसे हर हाल में पूरा करती है… इंद्रदत्त लखनपाल

ओपीएस की बहाली कर कांग्रेस ने साबित कर दिया कि कांग्रेस जो कहती है उसे हर हाल में पूरा करती है : लखनपाल
कर्मचारियों का 20 साल पुराना ओपीएस का मामला बहाल कर मुख्यमंत्री ने साबित कर दिया कि वह राजनीति के नायक ही नहीं बल्कि प्रदेश के जननायक हैं


कांग्रेस पार्टी ने विधानसभा चुनावों से पहले प्रदेश की जनता से जो दस वादे किये थे, उनमें से पुरानी पेंशन बहाली का वादा प्रमुख था जिसे कैबिनट की पहली बैठक में बहाल कर मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने यह साबित कर दिया कि वह राजनीति के नायक ही नहीं है बल्कि प्रदेश के लिए जननायक हैं। प्रदेश सरकार के इस ऐतिहासिक फैसले से कर्मचारी वर्ग व काँग्रेस कार्यकर्ता खुश व उत्साहित हैं, तो वहीं दूसरी तरफ ओपीएस की बहाली कर मुख्यमंत्री ने बीजेपी नेताओं की गैर-जिम्मेदाराना ब्यानबाजी पर तमाचा भी मारा है। यह बात बड़सर के विधायक इंद्रदत लखनपाल ने मैहरे के विश्राम गृह में शनिवार को आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान कही। विधायक लखनपाल ने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने ओपीएस की बहाली कर जहां 20 साल पुराने कर्मचारियों के ओपीएस के मामले को हल किया है। वहीं मुख्यमंत्री ने इस फैसले के बाद यह भी साबित कर दिया है कि कांग्रेस पार्टी जो भी वायदा करती है उसे जरुर निभाती है।

कैबिनेट की पहली मीटिंग में ओपीएस बहाली के निर्णय पर मुख्यमंत्री ने कर्मचारियों को लोहड़ी का एक नायाब तोहफा दिया है। वहीं ओपीएस पर अनाप-शनाप बयानबाजी करने वाले बीजेपी नेताओं के मुंह पर भी तमाचा मारा है। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों के ओपीएस के मामले को लेकर बीजेपी के नेताओं ने अनाप-शनाप बयानबाजी कर गुमराह करने की कोशिश की है। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद कांग्रेस के नेताओं के प्रति निम्न स्तर की बयानबाजी की गई। लेकिन कांग्रेस ने ओपीएस की बहाली कर बीजेपी के नेताओं को इसका जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने महिलाओं को 1500 रुपए व एक लाख युवाओं को नौकरी देने के लिए कमेटी गठित कर दी है। प्रदेश सरकार जल्द ही चुनावों से पहले किए गए अन्य वायदों को भी पूरा करने के लिए वचनबद्ध है। लखनपाल ने कहा कि विधानसभा चुनावों में ओपीएस का मुद्दा बहुत बड़ा मुद्दा था। कांग्रेस ने ओपीएस को मुद्दा बनाकर चुनाव लड़ा और आज प्रदेश के करीब 1 लाख 36 हजार कर्मचारियों को पुरानी पेंशन बहाली का लाभ दिया है। सरकार के इस फैसले से कर्मचारी तो खुश और उत्साहित है ही हैं लेकिन कांग्रेस कार्यकर्ता सबसे ज्यादा खुश व प्रसन्न हैं। क्योंकि चुनावों के दौरान कांग्रेस के हर एक कार्यकर्ता ने ओपीएस के मुद्दे व कांग्रेस की गारंटियों को घर-घर पहुंचाया है। जिसके बल पर प्रदेश में कांग्रेस ने सत्ता हासिल की। अब कांग्रेस पार्टी मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंद्र सिंह सुक्खू के नेतृत्व में जनता से किए गए वायदों को एक-एक कर पूरा करेगी। विधायक इंद्रदत्त लखनपाल ने इससे पूर्व पत्रकारों से रुबरु होते हुए प्रदेश की जनता को लोहड़ी व मकर संक्रांति की बधाई दी है साथ ही कर्मचारियों व कांग्रेस कार्यकर्ताओं को कांग्रेस सरकार के इस ऐतिहासिक फैसले पर बधाई व शुभकामनाएं दी हैं।


बड़सर विधानसभा क्षेत्र के मुद्दों पर बोलते हुए विधायक इंद्रदत्त लखनपाल ने कहा कि बड़सर के विकास को लेकर वह प्रयत्नशील हैं और बड़सर का विकास उनकी प्राथमिकता है। बड़सर में विकास को लेकर बजट की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। जो कार्य सालों से रुके पड़े हैं। उन्हें प्राथमिकता के आधार पर करवाया जाएगा। बड़सर की जनता मेरा परिवार है और उनके दुख-दर्दों को दूर करना मेरा परम दायित्व व कत्र्तव्य है। इस मौके पर पूर्व विधायक मंजीत सिंह डोगरा, प्रदेश कांग्रेस सचिव कृष्ण चौधरी, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष केवल धीमान , कांग्रेस नेता विपिन ढटवालिया सहित कई वरिष्ठ कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: