शिमला के आईजीमसी अस्पताल में   जूनियर डॉक्टर ने किया  सुसाइड, मिला सुसाइड नोट, जांच में जुटी पुलिस




शिमला के आईजीमसी अस्पताल में   जूनियर डॉक्टर ने किया  सुसाइड, मिला सुसाइड नोट, जांच में जुटी पुलिस



प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल अाईजीएमसी में कार्यरत एक महिला जूनियर डाॅक्टर के सुसाइड का मामला सामने आया है। सर्जरी डिपार्टमेंट में कार्यरत जूनियर डाॅक्टर लक्कड़ बाजार में किराए के कमरे में रह रही थी।

जानकारी के अनुसार डॉक्टर दिल्ली की रहने वाली बताई जा रही है. आज उसकी ओपीडी में ड्यूटी थी, लेकिन वह नहीं पहुंची, जिसके बाद उसके साथ काम करने वाले कर्मियों ने उसे कॉल किया. कॉल न उठाने के बाद उसके साथ के लोगों को शक हुआ. जिसके बाद महिला के साथी पुलिस के साथ उसके निवास स्थान पर पहुंचे. दरवाजा खटखटाने पर जब महिला ने दरवाजा नहीं खोला, तो पुलिस ने दरवाजा तोड़ दिया. जिसके बाद उन्हें महिला डॉक्टर का शव मिला.



पुलिस मामला दर्ज कर मौत के कारणों का पता लगाने में जुटी हुई है. कमरे से सुसाइड नोट भी मिला है जिसमे अपनी मर्जी से सुसाइड करने की बात लिखी है। 



एएसपी अभिषेक ने कहा आज थाना सदर में पुलिस को दोपहर 12:30 बजे सूचना मिली कि आइजीएमसी के समीप मनचंदा मेडिकल स्टोर के पीछे एक पीजी में एक महिला का शव मिला है।पुलिस सूचना मिलते ही तुरन्त मौके पर पहुंची और तहकिकात कर पता चला यह एक आइजीएमसी में पीजी छात्रा है ।इसकी उम्र 30 वर्ष है और यह मानसिक तौर पर परेशान भी थी जिसके लिए यह मेडिकल ट्रीटमेंट भी ले रही थीं।उन्होंने कहा कि मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला है जिससे साफ पता चल रहा है कि यह एक आत्महत्या का मामला है और नोट में लिखा है कि इसके लिए कोई जिम्मेदार नही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: