करोड़ो खर्च करने के बाबजूद बड़सर के लोग प्यासे! हर घर नल हर घर जल योजना धरातल पर तोड़ चुकी दम, लोग टैंकर से बुझा रहे प्यास और ये हैं अच्छे दिन मोदी सरकार के मेरे यार…. इंद्रदत्त लखनपाल



आज विधायक इंद्रदत्त लखनपाल ने प्रेस नोट जारी करते हुए बताया कि बड़सर के दर्जनों गाँव पानी कई समस्या से जूझ रहे है! सरकार हर घर नल हर घर जल योजना का रोना रोकर लोगो को गुमराह कर रही है जबकि हकीकत यह है कि क्षेत्र के लोग सरकार व विभाग कई लापरवाही के कारण पानी कई बूंद बूंद को तरस रहे है! इस योजना के तहत भी बीजेपी ने ऍबे लोगों को फायदा पहुंचाने का काम करते हुए क्षेत्र मे बंदर बाँट कई है! बीजेपी सरकार लोगों को मुलभुत सुविधाएँ देने मे पूरी तरह नाकाम रही है! बीजेपी सरकार की हर घर नल हर घर जल योजना पर करोड़ों रूपये खर्च होने बाबजूद भी लोग पानी की बूंद बूंद को तरस रहे है! आलम यह है कि बीजेपी की इस योजना के तहत घरों मे नल तो लगे लेकिन उनमे जल की एक बूंद तक नहीं टपकी है! हालाँकि बीजेपी हर मंच से इस योजना के तहत 18 लाख नल लगाने के अलाप अल्प रही है लेकिन सच्चाई यह है कि धरातल पर आज भी लोगों को पानी की बूंद बूंद के लिए मोहताज होना पड रहा है! ऐसा की वाक्य बड़सर

विधानसभा क्षेत्र मे देखने को मिल रहा है! बड़सर के दर्जनों गाँव ऐसे है जिनमे आठ से दस दिनों के बाद पानी की आपूर्ति हो पा रही है! ग्रामीणों को अपने काम काज को छोड़ आज भी पानी की तलाश मे भटकने को मजबूर होना पड़ रहा है! सरकार ने हर घर नल हर घर जल की योजना पर करोड़ फूँक डाले लेकिन इस योजना के तहत लगाए गए नलों मे पानी कहां से आएगा इस पर कोई काम नहीं किया! इस योजना के तहत बनाये गए दर्जनों स्टोरेज टैंक ऐसे है जिन्हे अभी कनेक्शन तक नहीं दिया गया है! यही कारण है कि बीजेपी सरकार की ये योजना धरातल पर उतरने से पहले ही हवा हवाई हो गई है! उपमंडल बड़सर के दर्जनों गाँव गुजरेड़ा, चंगर,टांगर,सुलहाड़ी, बिझड़ी, तरोपका,चलैली, महाराल, ठौ, जटा घरयाणी सहित अन्य कई ऐसे गाँव है जहां जलशक्ति विभाग पर्याप्त पानी मुहैया करवाने मे असमर्थ साबित हुआ है! क्षेत्र मे भरपूर बारिश होने के बाबजूद सरकार व जलशक्ति विभाग कई लापरवाही के कारण लोगों को पानी के लिए तरसने को मजबूर होना पड़ रहा है! करोड़ों खर्च करने के बाबजूद लोगों को टैंकर के माध्यम से पानी मंगवाकर काम चलाना पड़ रहा है!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: