मुख्यमंत्री ने हरोली विधानसभा क्षेत्र में लगभग 20 करोड़ रुपये की आठ विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण अपने प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष कार्यक्रम के उपक्ष पर किए।


मुख्यमंत्री ने हरोली विधानसभा क्षेत्र में लगभग 20 करोड़ रुपये की आठ विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण अपने प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष कार्यक्रम के उपक्ष पर किए।

हरोली विधानसभा क्षेत्र में प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष कार्यक्रम आयोजित
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज ऊना जिले के हरोली विधानसभा क्षेत्र के लिए जल शक्ति विभाग की लगभग 20 करोड़ रुपये की लागत की आठ विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण किये। उन्होंने हरोली में 4.50 करोड़ रुपये से शेष बचे हुए घरों को नल कनेक्शन, ईसपुर जोन के अन्तर्गत विभिन्न गांवों के लिए 4.65 करोड़ रुपये की जलापूर्ति योजना, बाथड़ी खंड के अन्तर्गत के विभिन्न गांवों के लिए 4.40 करोड़ रुपये की जलापूर्ति योजना, धर्मपुर के अन्तर्गत विभिन्न गांवों के लिए 2.10 करोड़ रुपये की लागत की जलापूर्ति योजना, पालकवाह गांव के लिए 2.07 करोड़ रुपये की जलापूर्ति योजना, खड्ड में 69 लाख के 30 ट्यूबवेल, पंजुआं में 75 लाख उठाऊ सिंचाई योजना और हरोली तहसील के पालकवाह में 68 लाख रुपये से निर्मित जल गुणवत्ता एवं अनुश्रवण प्रशिक्षण केंद्र का लोकार्पण किया।


इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने हरोली के कांगड़ मैदान में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने राज्य में बल्क ड्रग फार्मा पार्क को सैद्धांतिक मंजूरी प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारत सरकार का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि यह पार्क हरोली के पोलियां में 1,405 एकड़ से अधिक क्षेत्र में स्थापित किया जाएगा और क्षेत्र के लोगों को अनेक अवसर प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि इस पार्क से लगभग 50,000 करोड़ रुपये का अनुमानित निवेश होगा और लगभग 30,000 व्यक्तियों को प्रत्यक्ष रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि इस परियोजना की लागत का 90 प्रतिशत, जिसकी अधिकतम सीमा 1000 करोड़ रुपये है, भारत सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह आश्चर्य की बात है कि इस क्षेत्र के कुछ नेताओं ने इस बहुउद्देशीय परियोजना का विरोध किया क्योंकि उन्हें इस बात का डर था कि इससे उनकी राजनीतिक आकांक्षाओं को क्षति पहुंचेगी।
जय राम ठाकुर ने कहा कि यह वास्तव में राज्य के लोगों के लिए गर्व की बात है कि देश की स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूर्ण होने के साथ ही राज्य अपने अस्तित्व के 75 वर्ष भी मना रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पूरे प्रदेश में 75 कार्यक्रम आयोजित कर इस आयोजन को भव्य तरीके से मना रही है। उन्होंने कहा कि इन आयोजनों का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के 75 वर्षों के दौरान राज्य की विकास यात्रा को प्रदर्शित करना है। इन आयोजनों के माध्यम से 75 वर्षों की विकासात्मक यात्रा में लोगों की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित की जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में निवेश को आकर्षित करने के लिए वर्तमान राज्य सरकार का योगदान प्रदेश के पूर्व उद्योग मंत्री के कार्यकाल में किये गये निवेश की तुलना में बहुत अधिक है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पहली बार नवंबर, 2019 में धर्मशाला में एक मेगा ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट का आयोजन किया गया, जिसमें 96,721 करोड़ रुपये के निवेश के साथ 703 समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किए गए। उन्होंने कहा कि शिमला में 13,656 करोड़ रुपये की 240 परियोजनाओं की ग्राउंड ब्रेकिंग की गई और वर्तमान प्रदेश सरकार के चार वर्ष का कार्यकाल पूर्ण होने के उपलक्ष्य पर 27 दिसंबर, 2021 को मंडी में प्रधानमंत्री द्वारा दूसरा ग्राउंड ब्रेकिंग कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में 28,197 करोड़ रुपये की 287 परियोजनाएं समर्पित की गईं। उन्होंने कहा कि निवेशकों को आकर्षित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा बनाई गई निवेशक हितैषी नीतियों के कारण यह संभव हो पाया।


जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश की जनता ने एक बार फिर भाजपा को सत्ता में लाने का मन बना लिया है ताकि प्रदेश में विकास की गति निर्बाध रूप से जारी रहे। उन्होंने कहा कि विपक्षी नेता सत्ता में आने के लिए राज्य के मतदाताओं को लुभाने के लिए बड़े-बड़े वायदे कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश की जनता ने कांग्रेस को सिरे से नकार दिया है और अब हिमाचल प्रदेश की बारी है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार महिला सशक्तिकरण और उनके उत्थान पर विशेष ध्यान दे रही है। प्रदेश सरकार ने इस वर्ष जुलाई माह से हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में महिलाओं को बस किराए में 50 प्रतिशत की छूट प्रदान की है। प्रदेश में मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना, मुख्यमंत्री शगुन योजना और मुख्यमंत्री स्वाबलंबन जैसी विभिन्न योजनाओं से उनका सामाजिक-आर्थिक उत्थान सुनिश्चित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता को राहत प्रदान करने के उद्देश्य से राज्य सरकार द्वारा सभी घरेलू उपभोक्ताओं को प्रति माह 125 यूनिट तक मुफ्त बिजली और ग्रामीण क्षेत्रों में मुफ्त पानी भी उपलब्ध करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य के लिए क्रियान्वित की जा रही जनहितैषी योजनाएं कांग्रेसी नेताओं को रास नहीं आ रही है। कांग्रेसी नेता प्रदेश सरकार पर लोगों को मुफ्त की आदत डालने का आरोप लगा रहे हैं, वहीं दूसरी ओर अब यही नेता सत्ता में आने पर 300 यूनिट निःशुल्क बिजली देने का भी वादा कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री का हरोली पहुंचने पर भव्य स्वागत किया गया।
इस अवसर पर विभिन्न राजनीतिक और सामाजिक संगठनों ने मुख्यमंत्री को सम्मानित किया।
मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के ऑनलाइन मॉडयूल का शुभारम्भ किया तथा उद्योग विभाग की पहल गोल्डन इरा ऑफ इन्वेस्टमेंट इन हिमाचल प्रदेश’ कॉफी टेबल बुक का विमोचन किया।


केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री के सक्षम नेतृत्व की बदौलत भारत विश्व की 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। उन्होंने कहा कि एक समय में ‘सोने की चिड़िया’ कहलाने वाले भारत देश ने मज़बूत नेतृत्व की कमी के कारण अपनी गौरवशाली पहचान खो दी थी। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी के सक्षम नेतृत्व में भारत शीघ्र ही अपना खोया हुआ गौरव पुनः हासिल कर लेगा। उन्होंने कहा कि ऊना जिले में 200 करोड़ रुपये का आई.आई.आई.टी., 50 करोड़ रुपये की लागत से नेशनल करियर सेंटर खोले गये हैं। उन्होंने कहा कि ऊना में 450 करोड़ रुपये की लागत से पीजीआई सैटेलाइट सेंटर भी खोला जा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने राज्य के लिए विशेष औद्योगिक पैकेज प्रदान किया था जिसे केंद्र की तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने बंद कर दिया था। उन्होंने कहा कि बल्क ड्रग फार्मा पार्क हिमाचल के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सबसे बड़ा उपहार है, जिसे वह अपना दूसरा घर मानते हैं। उन्होंने लोगों से प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के साथ मज़बूती के साथ खड़े होने का आग्रह किया ताकि आने वाले कई वर्षों तक डबल इंजन वाली सरकार चलती रहे।


केंद्रीय मंत्री ने कहा कि नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत देश के 5 करोड़ लोगों का निःशुल्क उपचार किया गया और मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर द्वारा शुरू की गई हिमकेयर योजना के तहत 3.5 लाख लोगों को निःशुल्क इलाज प्रदान किया गया है। उन्होंने कहा कि केंद्र की उज्ज्वला योजना और राज्य की गृहिणी सुविधा योजना ने देश और राज्य के करोड़ों परिवारों को निःशुल्क गैस कनेक्शन प्रदान किये हैं।


उद्योग एवं परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह ने कहा कि राज्य ने पिछले लगभग पांच वर्षों में विकास के सभी क्षेत्रों में अभूतपूर्व प्रगति की है और इसका श्रेय मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के दूरदर्शी एवं गतिशील नेतृत्व को जाता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा केंद्रीय नेतृत्व के समक्ष प्रभावशाली प्रस्तुतिकरण के कारण ही राज्य को बल्क ड्रग पार्क मिलना संभव हो पाया है। उन्होंने कहा कि इससे पूरे जिले की सामाजिक-आर्थिक स्थिति पूरी तरह बदल जाएगी। उन्होंने आरोप लगाया कि स्थानीय विधायक और विपक्ष के नेता का यह कहना कि बल्क ड्रग पार्क उनकी परिकल्पना है झूठा दावा है।

राज्य औद्योगिक विकास निगम के उपाध्यक्ष प्रो. राम कुमार ने मुख्यमंत्री एवं केंद्रीय मंत्री का स्वागत करते हुए हरोली विधानसभा क्षेत्र में बल्क ड्रग फार्मा पार्क को सैद्धांतिक मंजूरी देने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि यह पार्क हरोली के लोगों के लिए सबसे बड़ा उपहार है क्योंकि इससे क्षेत्र के हजारों युवाओं को रोजगार प्राप्त होगा। उन्होंने कहा कि विभिन्न स्तरों पर इस पार्क का विरोध किया गया और यहां तक की न्यायालय में यह दावा किया कि बल्क ड्रग फार्मा पार्क के लिए चयनित स्थल पोलियां क्षेत्र, जो कि सैकड़ों भालुओं का निवास स्थल है, को खतरा होगा। उन्होंने कहा कि हरोली क्षेत्र के लोग आने वाले समय में विरोधियों को करारा जवाब देंगे।
इस अवसर पर ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर, छठे राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष सतपाल सत्ती, जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर लाल, विधायक बलबीर चौधरी, जिला परिषद की अध्यक्ष नीलम, उपायुक्त ऊना राघव शर्मा, पुलिस अधीक्षक ऊना अर्चित सेन सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: