हिमाचल में‌ बदलाव की लहर, जनता बना चुकी है बदलाव का मन : सचिन पायलट
कहा – भाजपा के दोनों इंजन डगमगा गए, एक इंजन 2022 में, जबकि दूसरा इंजन 2024 में होगा सीज

हिमाचल में‌ बदलाव की लहर, जनता बना चुकी है बदलाव का मन : सचिन पायलट
कहा – भाजपा के दोनों इंजन डगमगा गए, एक इंजन 2022 में, जबकि दूसरा इंजन 2024 में होगा सीज



कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पार्टी के स्टार प्रचारक सचिन पायलट ने कहा है कि भाजपा के दोनों इंजन डगमगा गए हैं। उन्होंने कहा कि एक इंजन 2022 में सीज हो जाएगा, जबकि दूसरा इंजन 2024 में सीज होगा। उन्होंने कहा कि हिमाचल में बदलाव की लहर है और जनता पूरी तरह से बदलाव का मन बना चुकी है। वे सोमवार शाम यहां प्रेसवार्ता को संबोधित कर रगे थे।
सचिन पायलट ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिमाचल आकर कह रहे हैं उम्मीदवार को मत देखो, पार्टी चुनाव चिन्ह देखो। इससे साफ है कि भाजपा के उम्मीदवार कमजोर हैं और जीतने वाले नहीं हैं। इसलिए पीएम मोदी को यहां यह कहना पड़ रहा है। उन्होंने दावा किया कि हिमाचल प्रदेश में प्रचंड बहुमत से कांग्रेस की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा को अहसास हो चुका है कि वह विधानसभा चुनाव की लड़ाई में बहुत पिछड़ गई है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने पिछले पांच सालों में कोई विकास नहीं किया। यही कारण है कि वह विकास के दम पर वोट नहीं मांग रही। उनका कहना था कि इस छोटे से पहाड़ी प्रदेश हिमाचल में विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी, गृह मंत्री अमित शाह व अन्य केंद्रीय नेताओं का बार-बार आना यह दर्शाता है कि भाजपा की स्थिति यहां पर कितनी कमजोर है। उन्होंने कहा कि हिमाचल में भाजपा पूरी तरह से बैकफुट पर है।


सचिन पायलट ने भाजपा के संकल्प पत्र की चर्चा करते हुए कहा कि इसमें भाजपा ओपीएस पर पूरी तरह से मौन है। उन्होंने कहा कि भाजपा इसे लागू नहीं करना चाहती। अगर वह यहां इसे लागू करने की बात करती है तो देश के अन्य राज्यों में भी लागू करना पड़ेगा। इसलिए भाजपा इस पर मौन है, क्योंकि वह इस मुद्दे पर पूरी तरह से फंस गई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की जहां-जहां पर भी सरकारें हैं वहां पर ओपीएस को लागू किया गया है। हिमाचल में भी कांग्रेस ने यह वायदा यहां के कर्मचारियों से किया है और सरकार बनने पर पहली कैबिनेट की बैठक में इस पर मुहर लगा दी जाएगी।
कांग्रेस नेता ने कहा कि कांग्रेस ने जो भी गारंटियां हिमाचल की जनता को दी है वह बहुत ही सोच समझ कर और विस्तृत चर्चा करने के बाद दी है। उन्होंने कहा कि इसके लिए वित्त प्रबंधन कैसे होगा, इसकी पूरी रणनीति बनी है।
पायलट ने कहा कि प्रदेश की जनता महंगाई, बेरोजगारी से त्रस्त है और बीजेपी इस पर एक शब्द तक नहीं बोल रही है। हिमाचल का बेरोजगारी का आंकड़ा देशभर में सबसे ज्यादा है। एक सवाल के जवाब में पायलट ने कहा कि राजस्थान में ओपीएस लागू किया जा चुका है। भाजपा के नेता इस संबंध में गलत बोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल में जो कर्ज लगातार बढ़ रहा है वह भाजपा सरकार के कुप्रबंधन का नतिजा है।


पायलट ने कहा कि डबल इंजन सरकार का दावा करने‌ वाली सरकार केंद्र से कोई मदद नहीं ले पाई हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि हिमाचल में भाजपा सरकार ने कर्ज का दुरुपयोग किया है। चुनाव से पहले करोड़ों की घोषणाएं बिना बजट के की गई है। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा मुद्दों से भटकाने की राजनीति करती रही है। प्रदेश की जनता जान चुकी है कि उनकी समस्या क्या है इसे कौन दूर कर सकता है। उन्होंने कहा कि वह राज्य में कई जगह गए हैं और देख चुके हैं कि माहौल पूरी तरह से बदलाव का है और कांग्रेस के पक्ष में है और यहां की जनता भाजपा के झांसे में आने वाली नहीं है। इस मौके पर कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा, कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रमुख नरेश चौहान, पार्टी नेता अनीस अहमद, महेंद्र चौहान आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: