भाजपा नेत्री को लेकर दिए बयान को लेकर विक्रमादित्य सिंह ने मांगी माफी , बोले किसी की भावनाओ को आहत करने की नही थी मंशा




भाजपा नेत्री को लेकर दिए बयान को लेकर विक्रमादित्य सिंह ने माफी मांगी , बोले किसी की भावनाओ को आहत करने की नही थी मंशा


 शिमला के रोहडू में भाजपा नेत्री को लेकर दिए  बयान पर उठे बवाल पर   कांग्रेस महासचिव ओर विधायक विक्रमादित्य सिंह ने विराम लगा दिया है । भाजपा नेत्रियो द्वारा विक्रमादित्य से माफी मांगने की मांग की जा रही थी वही विक्रमादित्य सिंह ने अपने बयान पर  माफी मांग ली है । रोहडू से शिमला पहुचते ही विक्रमादित्य सिंह ने पूरे मामले में अपनी सफाई देते हुए कहा कि  बागवानों की समस्याओं को लेकर रोहडू में  आज  आक्रोश रैली थी जिसमे भारी जन आक्रोश उमड़ पड़ा था जहा जनसभा को  संबोधित  किया लेकिन जब वापस अपने निवास स्थान पहुचा तो सोशल मीडिया पर भाजपा द्वारा भाजपा महिला नेत्री के बारे में बयानबाजी के आरोप लगा है ।

उन्होंने कहा कि वे  महिलाओं का बहुत मान सम्मान करते है ओर ये हमारे संस्कार हैं जहां तक बयान की बात है तो ये कहा था कि भाजपा का नेता इस इलाके का है उनकी ठेकेदारों के साथ मिलीभगत है इसमें कोई दो राय नहीं है।  आपस में मिलीभगत के चलते सरकारी धन जो योजना में लगना चाहिए था वह नहीं लग रहा लग रहा है और दुर्भाग्य वहां पर भाजपा नेता  एक महिला है ।  उन्होंने बयान  भाजपा ओर  ठेकेदारों के  संदर्भ में यह बात कही थी लेकिन भाजपा द्वारा  इस मुद्दे को तूल देने का प्रयास किया जा रहा है। भाजपा के पास आज कोई मुद्दा नही है।  हिमाचल प्रदेश में दुष्कर्म हो रहे है और इनके नेताओं पर देश भर में आरोप भी लग रहे लेकिन भाजपा नेत्रियां उनको लेकर कोई बयान नही देती है।  उन्होंने कहा कि महिला नेत्री के लिए उन्होंने किसी भी तरह के उपशब्द का प्रयोग नहीं किया है यदि  जाने अनजाने में किसी की भावनाएं उनके बयान से आहत  हुई है तो उसके लिए माफी मांगने में कोई गुरेज नहीं है माफी मांगने से छोटा नहीं होता।भाजपा तो गलतियां करके भी माफी नहीं मांगते हैं लेकिन  मेरे बयान से किसी की भावनाएं आहत हुई है तो  उसके लिए वे माफी मांगते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: