जलरक्षकों की टूल डाउन स्ट्राइक तीसरे दिन भी जारी , सरकार से अनुबंध कार्यकाल कम करने की मांग,बोले जब तक पूरी नही होती मांग आंदोलन रहेगा जारी,मानसून सत्र में 9 हजार जलरक्षक विधानसभा पर बोलेंगे हल्ला…

जलरक्षकों की टूल डाउन स्ट्राइक तीसरे दिन भी जारी , सरकार से अनुबंध कार्यकाल कम करने की मांग,बोले जब तक पूरी नही होती मांग आंदोलन रहेगा जारी,मानसून सत्र में 9 हजार जलरक्षक विधानसभा पर बोलेंगे हल्ला…

हिमाचल प्रदेश जल रक्षक महासंघ की टूल डाउन स्ट्राइक तीसरे दिन भी जारी रही।अनिश्चितजालिन धरने के दौरा आज तीसरे दिन जल रक्षकों ने अपनी मांगों को लेकर उपायुक्त कार्यालय के समीप हल्ला बोला।जलरक्षकों का कहना है जब तक उनकी मांगें पूरी नही हो जाती उनका आंदोलन जारी रहेगा।

हिमाचल जल रक्षक महासंघ के अध्यक्ष जवालु राम ने कहा कि जल रक्षक लंबे समय से अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं, चार वर्ष का समय बीत जाने के बाद भी सरकार केवल आश्वासन ही दे रही और मांगों के परतीं बेरुखी जा रवैया अपनाए हुए है।. जल रक्षकों की मांग है कि उनके अनुबंध पर आने के कार्यकाल को 12 वर्ष से घटाकर आठ वर्ष किया जाए. उन्होंने कहा कि किसी भी विभाग में इतने लंबे अंतराल के बाद कर्मचारियों को कॉन्ट्रैक्ट पर नहीं लिया जाता. केवल जल रक्षकों के साथ ही यह भेदभाव किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि अपनी मांगों को लेकर वे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर सहित अन्य मंत्रियों से भी मिले थे।चार वर्ष बीत जाने के बाद भी उनकी मांगों पर कोई विचार नही किया जा रहा। उन्होंने कहा कि तीन दिन उनको हड़ताल पर हो गए परन्तु सरकार का कोई नुमाइंदा उनके पास नही आया और न ही उन्हें वार्ता के लिए बुलाया गया।सरकार की बेरुखी के चलते उन्हें सड़कों पर उतरना पड़ा है,अगर सरकार उन्हें वार्ता के लिए नही बुलाती तो प्रदेश भर के लगभग 9 हजार जलरक्षक मानसून सत्र के दौरान विधानसभा पर हल्ला बोलेंगे।उन्होंने कहा कि उनकी मांग है कि उनका कॉन्ट्रैक्ट पीरियड 12 वर्ष से घटाकर 8 वर्ष किया जाए और उन्हें जलशक्ति विभाग के अधीन लिया जाए साथ ही उन्हें उचित वेतनमान भी प्रदान किया जाए जिससे वह महंगाई के दौर में अपना गुजर बसर ठीक प्रकार से कर सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: