आम आदमी पार्टी ने किया कोटगढ़ गोली कांड के शहीदों को नमन, हरवर्ष 22 जुलाई को मनाएंगे बागवान अधिकार संकल्प दिवस

आम आदमी पार्टी ने किया कोटगढ़ गोली कांड के शहीदों को नमन, हरवर्ष 22 जुलाई को मनाएंगे बागवान अधिकार संकल्प दिवस

आम आदमी पार्टी ने आज कोटगढ़ में बने शहीद स्मारक में जाकर गोलीकांड में शहीद हुए बागवानों को श्रद्धांजलि दी। अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे बागवानों पर भाजपा सरकार के समय हुए 22 जुलाई 1990 को हुए गोलीकांड में कोटगढ़ के तीन बागवान गोविंद सिंह, हीरा सिंह और तारा चंद की पुण्यतिथि पर आम आदमी पार्टी के किसान विंग अध्यक्ष अनिंदर सिंह नॉटी ने शहीद स्मारक में जाकर नमन किया। यह बात शिमला में आम आदमी पार्टी नेता चमन राकेश आजटा ने कही। उन्होंने बताया कि आप आदमी पार्टी ने हरवर्ष 22 जुलाई को ”बागवान अधिकार संकल्प दिवस”के तौर पर मनाने का निर्णय लिया।

आम आदमी पार्टी के जिला शिमला लोकसभा इंचार्ज चमन राकेश आजटा ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने आज के दिन संकल्प लिया कि बागवानों की लड़ाई आखिरी दम तक लड़ेंगें और बागवानों को हक दिलाकर रहेंगें।
अपनी मांगों को लेकर कोटगढ़ में आंदोलन कर रहे बागवानों पर हुए गोलीकांड में शहीद हुए गोविंद सिंह की पत्नी सीता देवी अभी भी अपने पति की शहादत का दर्द सहन कर रही हैं। प्रदेश में 1990 में मुख्यमंत्री शांता कुमार की भाजपा सरकार के समय बागवान अपने मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे थे। सरकार ने बागवानों की मांग नहीं मानी बल्कि पुलिस फोर्स लगातार आंदोलन कारियों को आवाज को दबाने का प्रयास किया। पुलिस ने आंदोलन कारियों पर डंडे बरसाए और गोलियां चलाईं। इसी गोलीकांड में कोटगढ़ के तीन बागवान गोविंद सिंह, हीरा सिंह और ताराचंद की मौत हो थ। सरकारें आज तक बागबानों की मांगो को अनदेखा कर रही है। आम आदमी पार्टी बागवानों की लड़ाई आखिरी दम तक लड़ेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: