नालागढ़ पुलिस ने अवैध खनन करते हुए 4 टिप्पर और 2 ट्रैक्टर किए जपत। माइनिंग एक्ट के तहत लगेगा जुर्माना। आगे भी अवैध खनन करने वालों के खिलाफ करते रहेंगे कार्यवाही

नालागढ़ पुलिस ने अवैध खनन करते हुए 4 टिप्पर और 2 ट्रैक्टर किए जपत। माइनिंग एक्ट के तहत लगेगा जुर्माना। आगे भी अवैध खनन करने वालों के खिलाफ करते रहेंगे कार्यवाही

नालागढ़ पुलिस ने  देर रात पंजैहरा  में अवैध खनन करने वालों के विरूद कार्यवाही करते हुए  4 टिपर और दो ट्रैक्टर किये जप्त । आपको बता दे की प्रदेश के सबसे बड़े औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन में रात के अंधेरे में अवैध खनन का करोड़ों का कारोबार होता है। रात के अंधेरे में पीले पंजे से चोरी की गई बहुमूल्य खनन संपदा को पड़ोसी राज्यों पंजाब और हरियाणा को सप्लाई किया जाता है। आज हालत इतने बदतर हैं कि यहां भू-जल स्तर तेजी से गिर रहा है और क्षेत्र की जीवनदायिनी बाल्द, सरसा और रत्ता नदी का अस्तित्व तक मिटने की कगार पर है। क्षेत्र के कूएं, बाबडिय़ां सूखने की कगार पर हैं।

 पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार रात के अंधेरे में पुलिस द्वारा अवैध खनन करने वालों पर कार्रवाई के दौरान  पुलिस ने पंजेहरा में मौके पर पहुंच कर 4 टिप्पर और 2 ट्रैक्टर जपत किए है। वहीं मामले की पुष्टि करते हुए एसएचओ नालागढ़ श्यामलाल ने बताया कि पुलिस खनन माफिया पर नुकेल कसने के लिए दिन रात एक कर रही है। वहीं नालागढ़ के पंजेरा में खनन करते हुए  स्थानीय लोगों को पकड़ा गया है जिनके पास से मौके पर 4 टिप्पर और 2 ट्रैक्टर जपत किए है और माइनिंग एक्ट के अनुसार ही जुर्माना  लगाया जाएगा। वहीं उन्होंने बताया की स्थानीय लोगों द्वारा अंदरोला नदी में हो रहे अवैध खनन के बारे उनको शिकायत प्राप्त हुई है वहां पहले भी एक बार पुलिस द्वारा कार्यवाही की गई और अब फिर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। वहीं उन्होंने कहा की खनन माफिया पर नुकेल कसने के लिए ग्रामीण सहयोग बहुत जरूरी है। समय पर ग्रामीण अवैध खनन की सूचना पुलिस को देते हैं तो पुलिस मौके पर त्वरित कार्रवाई अमल में लाती है। पुलिस और पब्लिक की पार्टनरशिप से ही अवैध खनन के काले कारोबार को पूरी तरह से रोका जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: